NewsHub के साथ गर्मागर्म विषयों पर ताज़ातरीन ख़बरों के अपडेट प्राप्त करें। अभी इन्स्टाल करें।

अलवर: पुलिस ने मारे गए उमर को बताया गोतस्कर, विधवा बोली- बच्चों को दूध पिलाने के लिए खरीदी थी गाय

१४ नवंबर, २०१७ ६:१६ पूर्वाह्न
4 0

10 नवंबर को अलवर में गाय और बछड़े लेकर जा रहे उमर, ताहिर और जावेद पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया था।

राजस्थान के अलवर में शुक्रवार (10 नवंबर) को कुछ अज्ञात लोगों ने उमर, ताहिर और जावेद पर हमला कर दिया। तीनों गाय खरीद कर अपने गाँव वापस आ रहे थे। हमले के बाद उमर का शव मिला। ताहिर वहां से भागने में कामयाब रहे लेकिन वो बताते हैं कि उनकी बाँह में गोली लग गयी थी। जबकि अलवर पुलिस ने रविवार (12 नवंबर) को अपनी रिपोर्ट में कहा कि मामले में प्रथम दृष्टया गोली चलने के सबूत नहीं मिले हैं। 42 वर्षीय उमर अलवर के घटमिका गाँव के रहने वाले थे। उनकी पत्नी खुर्शीदन गर्भवती हैं। उमर और खुर्शीदन के आठ बच्चे हैं। सबसे बड़ा मकसूद करीब 18 साल का है। सबसे छोटी आलिया करीब एक साल की है। खुर्शीद को अफसोस है कि उन्होंने उमर से गाय खरीदने की जिद क्यों की। खुर्शीदन ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया, “हम अपने बच्चों के दूध-घी के लिए गाय लाना चाहते थे। वो गुरुवार को 15 हजार रुपये लेकर गये थे। मैंने ही उनसे कहा था कि अगर हमारे पास गाय होगी तो हमारे बच्चों को दूध मिल जाएगा और बाकी हम बेच सकते हैं, जैसा गांव में दूसरे परिवार करते हैं।”

यह भी पढ़ें: अलवर के एक व्यापारी का अपहरण

स्रोत: jansatta.com

सामाजिक नेटवर्क में शेयर:

टिप्पणियां - 0