NewsHub के साथ गर्मागर्म विषयों पर ताज़ातरीन ख़बरों के अपडेट प्राप्त करें। अभी इन्स्टाल करें।

कर्नाटक इफेक्ट: कांग्रेस गोवा और मणिपुर में, राजद बिहार में करेगा सरकार बनाने का दावा

१७ मई, २०१८ ८:२६ अपराह्न
5 0
कर्नाटक इफेक्ट: कांग्रेस गोवा और मणिपुर में, राजद बिहार में करेगा सरकार बनाने का दावा

नई दिल्ली. कर्नाटक में सबसे बड़े दल के रूप में उभरने के बाद राज्यपाल की तरफ से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को सरकार बनाए जाने की मंजूरी दिए जाने के बाद बिहार समेत चार राज्यों में सियासी हलचल तेज हो गई है.

कर्नाटक के फॉर्मूले को देखते हुए गोवा में कांग्रेस पार्टी ने सबसे बड़ी पार्टी होने का दावा करते हुए गोवा कांग्रेस ने गुरुवार को राज्यपाल मृदुला सिन्हा से कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला के नक्शेकदम पर चलकर राज्य में सरकार बनाने के लिए कांग्रस को आमंत्रित करने की मांग की.

2017 विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 13 सीटों पर जीत मिली थी, वहीं कांग्रेस ने यहां 17 सीटों पर जीत दर्ज की थी.

हालांकि बीजपी ने राज्यपाल से मंजूरी मिलने के बाद राजनीतिक कुशलता दिखाते हुए दो स्थानीय पार्टियों और स्वतंत्र उम्मीदवारों के साथ मिलकर गठबंधन सरकार बनाने में सफलता हासिल की थी.

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के बाद वहां उठे सियासी तूफान का असर अब बिहार में भी दिखने लगा है. बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव अपने विधायकों के साथ शुक्रवार को राज्यपाल सत्यपाल मलिक से मिलेंगे.

तेजस्वी ने कहा कि बिहार में राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) न केवल सबसे बड़ी पार्टी है बल्कि जेडी-यू के बाहर चले जाने के बाद भी कांग्रेस और आरजेडी का चुनाव से पहले का सबसे बड़ा गठबंधन है.

उन्होंने कहा कि अगर कर्नाटक में सबसे बड़े दल को सरकार बनाने का न्योता दिया गया, तो बिहार में उसी तर्ज पर सरकार बनाने का न्योता आरजेडी कोमिलना चाहिए.

मणिपुर के पूर्व मुख्यमंत्री ओकराम इबोबी सिंह और मेघालय के पूर्व मुख्यमंत्री मुकुल संगमा ने राज्यपाल से मुलाकात का समय मांगा है.

गौरतलब है कि कर्नाटक में कांग्रेस और जनता दल-एस ने 117 विधायकों के समर्थन की चिट्ठी राज्यपाल को सौंपी थी. लेकिन चुनाव बाद सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी बीजेपी को राज्यपाल ने सरकार बनाने का न्योता दिया और येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री पद की गुरुवार को शपथ भी दिला दी.

यह भी पढ़ें: शाह ने सतना में गिनाये बीजेपी द्वारा महिला सशक्तिकरण के लिए किये जा रहे काम

स्रोत: palpalindia.com

सामाजिक नेटवर्क में शेयर:

टिप्पणियां - 0