NewsHub के साथ गर्मागर्म विषयों पर ताज़ातरीन ख़बरों के अपडेट प्राप्त करें। अभी इन्स्टाल करें।

बाल तस्करी मामले में भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय से हुई पूछताछ

१३ मार्च, २०१८ ९:४३ पूर्वाह्न
9 0
बाल तस्करी मामले में भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय से हुई पूछताछ

कोलकाता सिलीगुड़ी. पश्चिम बंगाल सीआइडी ने जलपाईगुड़ी बाल तस्करी मामले में भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय से इंदौर में दो घंटे तक पूछताछ की. कोलकाता से आठ सदस्यीय टीम ने इंदौर आकर विजयवर्गीय से 50 से ज्यादा सवाल पूछे और उनके बयान भी दर्ज किये. हालांकि, कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार राजनीतिक द्वेष निकालने के लिए आरोप लगा रही है. सीआइडी ने पिछले साल बाल तस्करी के एक गिरोह का पर्दाफाश किया था. गिरोह गोद लेने के अवैध सौदों के जरिये शिशुओं और बच्चों को कथित रूप से बेचता था. कुछ विदेशियों को भी बच्चे बेचे जाते थे. पिछले साल जून में राज्य सीआइडी ने इसी मामले में पूछताछ के लिए भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय तथा दो अन्य नेताओं को ‍भी समन भेजा था.

दरअसल, बाल तस्करी मामले में जूही चौधरी की गिरफ्तारी के बाद विजयवर्गीय का नाम सामने आया था. आरोप है कि जूही चौधरी ने कथित रूप से कहा है कि उसने राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली के जरिये विजयवर्गीय से संपर्क किया था. हालांकि, कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि राजनीतिक प्रतिशोध के चलते बंगाल सरकार इस तरह के आरोप लगा रही है. उन्होंने बताया कि सीआइडी अफसर इंदौर आये थे और उन्होंने जूही चौधरी से संपर्क के बारे में सवाल पूछे थे.

क्या है मामला: साल 2017 के 18 फरवरी को नॉर्थ बंगाल पीपुल्स डेवलपमेंट सेंटर की चेयरपर्सन चंदना चक्रवर्ती को जलपाईगुड़ी के विमला शिशु गृह से बच्चे बेचे जाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया था. सीआइडी ने आरोपों के आधार पर लंबी जांच पड़ताल के बाद होमकांड की मुख्य आरोपी चंदना चक्रवर्ती को गिरफ्तार किया था. उसके बयान के आधार पर सीआइडी ने पहले चरण में सोनाली मंडल, मानस भौमिक एवं भाजपा महिला मोर्चा की महासचिव जूही चौधरी को गिरफ्तार कर लिया.

कौन हैं जूही चौधरी: चंदना चक्रवर्ती पर उसके एडॉप्शन एजेंसी विमला शिशु गृह से 20 बच्चों के लापता होने की घटना को लेकर राज्य चाइल्ड राइट एंड ट्रैफिकिंग का मामला दायर किया गया. सीआइडी ने छानबीन के बाद चंदना चक्रवर्ती व उसके बयान के आधार पर और सात लोगों को गिरफ्तार किया. जिसमें भाजपा महिला मोर्चा की महासचिव जूही चौधरी भी एक है. छानबीन में यह भी सामने आया है कि भाजपा नेता जूही चौधरी ने चंदना चक्रवर्ती को पहले रूप गांगुली व इसके बाद दिल्ली में कैलाश विजयवर्गीय से भी मिलवाया. जूही चौधरी पर चंदना चक्रवर्ती से लाखों रुपये लेने का भी आरोप है.

यह भी पढ़ें: एसीपी पर महिला ने लगाया दुष्कर्म का आरोप

स्रोत: palpalindia.com

सामाजिक नेटवर्क में शेयर:

टिप्पणियां - 0