NewsHub के साथ गर्मागर्म विषयों पर ताज़ातरीन ख़बरों के अपडेट प्राप्त करें। अभी इन्स्टाल करें।

भारत और फ्रांस के बीच समुद्री निगरानी के लिए होगी सबसे बड़ी अंतरिक्ष साझेदारी

१६ सितंबर, २०१८ ११:२३ पूर्वाह्न
2 0

भारत और फ्रांस ने मिलकर समुद्री निगरानी के लिए 8-10 उपग्रह भेजने की योजना बनाई है. फ्रांसीसी अंतरिक्ष एजेंसी सीएनईएस के प्रमुख ज्यां येव्स ली गॉल ने यह जानकारी दी. यह किसी भी देश के साथ भारत की सबसे बड़ी अंतरिक्ष साझेदारी होगी. उन्होंने बताया कि अंतरिक्ष में भेजे जाने वाले आठ-दस समुद्री निगरानी उपग्रह का फोकस हिंद महासागर पर होगा. इस क्षेत्र में चीन की मौजूदगी तेजी से बढ़ रही है. ऐसे में इस कदम से चीन पर नजर रखने में मदद मिलेगी.

यह पूछे जाने पर कि कितने उपग्रह परियोजना का हिस्सा होंगे, इस पर उन्होंने कहा, ‘‘इनकी संख्या आठ से दस होगी.’’ सीएनईएस के अधिकारी ने बताया कि इस प्रक्षेपण का मकसद समुद्री यातायात प्रबंधन की निगरानी करना है. उपग्रहों के प्रक्षेपण में पांच साल से भी कम समय लगेगा.

संचार की कई महत्वपूर्ण समु्द्री लेन हिंद महासागर से होकर गुजरती हैं और इसलिए ये क्षेत्र भारत और फ्रांस के लिए रणनीतिक महत्व रखता है. अधिकारियों ने बताया कि हिंद महासागर क्षेत्र नई दिल्ली के लिए अहम है और फ्रांस की भी सीमाएं हिंद महासागर, प्रशांत महासागर और अटलांटिक महासागर के आसपास फैली हुई है.

स्रोत: legendnews.in

सामाजिक नेटवर्क में शेयर:

टिप्पणियां - 0