NewsHub के साथ गर्मागर्म विषयों पर ताज़ातरीन ख़बरों के अपडेट प्राप्त करें। अभी इन्स्टाल करें।

मोटर मैकेनिक का बेटा अमन रहमान बना लिटिल बिल गेट्स ऑफ इंडिया!

१४ नवंबर, २०१७ १२:१५ अपराह्न
1 0
मोटर मैकेनिक का बेटा अमन रहमान बना लिटिल बिल गेट्स ऑफ इंडिया!

DEHRADUN: लिटिल बिल गेट्स, दुनिया दून के अमन को इसी नाम से जानती है. जिस उम्र में बच्चा वर्णमाला तक नहीं सीख पाता, उस उम्र में अमन रहमान ने कंप्यूटर चलाना शुरू कर दिया था. टेक्नोलॉजी की समझ के इस सफर ने अमन को महज 9 साल में दुनिया का सबसे कम उम्र का एनिमेशन लेक्चरर बना दिया. अमन की यह उपलब्धि गिनीज बुक ऑफ व‌र्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है और इस उपलब्धि के लिए अमन को कोलंबो की ओपन इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी ने आॉनररी डॉक्टरेट की उपाधि दी.

अमन रहमान जब तीन साल का था, तो पिता जो एक मोटर मैकेनिक का काम करते थे, घर में कंप्यूटर लाए. ये कंप्यूटर अमन के भाई के लिए लाया गया था और अमन को सख्त हिदायत दी गई थी कि कंप्यूटर को हाथ न लगाए. लेकिन, जब भी भाई कंप्यूटर पर काम करता तो अमन से रहा न जाता. धीरे-धीरे कंप्यूटर हाथ में आने लगा और दुनिया का सबसे कम उम्र का एनिमेटर अपने सफर पर चल पड़ा. सिर्फ फ् साल की उम्र में अमन ने डांसिंग एल्फाबेट बनाए और उसकी यह क्रिएटिविटी देखकर पूरा परिवार दंग रह गया. अमन को उसके पिता ने एक कंप्यूटर सेंटर में दाखिला दिला दिया.

एनिमेशन के प्रति अमन की समझ का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि एनिमेशन से जुड़े फ्डी, ब्डी के डिप्लोमा-डिग्री कोर्सेज में जहां कॉमन स्टूडेंट को क् साल का वक्त लगता है, अमन ने ये डिग्रियां फ् से म् महीने में हासिल कर लीं. यही नहीं सिर्फ क्क् वर्ष की उम्र में अमन ने बीएससी इन एनिमेशन की डिग्री भी हासिल कर ली थी और इसी दौरान ओपन इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी कोलंबो ने अमन को ऑनररी डॉक्टरेट की उपाधि से नवाजा.

अमन का एनिमेशन लेक्चरर बनने का सफर भी मजाक में शुरू हुआ. एनिमेशन पर तो अमन अपनी पकड़ बना ही चुके थे इसी दौरान जब अमन म् साल के थे, तो एक दिन उनकी एनिमेशन क्लास में टीचर नहीं पहुंचा. अमन ने मजाक में अपने साथियों को एनिमेशन की क्लास देने की बात कही और शुरू हो गया. यहां से अमन की हिम्मत बढ़ी और महज 8 साल की उम्र में अमन ने प्रोफेश्नल लेक्चर देने शुरू कर दिए थे.

- 9 साल की उम्र में बीबीसी लंदन द्वारा लिटिल बिल गेट्स ऑफ इंडिया की उपाधि.

- 11 साल की उम्र में ही ओपन इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी ने दी डॉक्टरेट की उपाधि.

वाटर कंजर्वेशन, फॉरेस्ट कंजर्वेशन, ट्रैफिक अवेयरनेस, ग्लोबल वार्मिग, गंगा, एन्वायरमेंट, ट्यूबरकुलोसिस, वोटिंग राइट्स.

स्रोत: inextlive.jagran.com

सामाजिक नेटवर्क में शेयर:

टिप्पणियां - 0