NewsHub के साथ गर्मागर्म विषयों पर ताज़ातरीन ख़बरों के अपडेट प्राप्त करें। अभी इन्स्टाल करें।

रघुवर सरकार ने माओवादी व टीपीसी को धन मुहैया कराने वाले रघुराम रेड्डी के खिलाफ नहीं की कार्रवाई

१० फ़रवरी, २०१८ ७:०३ पूर्वाह्न
6 0
रघुवर सरकार ने माओवादी व टीपीसी को धन मुहैया कराने वाले रघुराम रेड्डी के खिलाफ नहीं की कार्रवाई

Ranchi: जीरो टॉलरेंस और नक्सलियों-उग्रवादियों को समाप्त करने की बात करने वाली रघुवर दास की सरकार ने माओवादियों और टीपीसी को फंडिंग करने वालों खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की. नक्सली-उग्रवादी संगठनों को धन मुहैया कराने के मामले में 27 जनवरी 2016 को चतरा के तत्कालीन एसपी सुरेंद्र कुमार झा ने पुलिस मुख्यालय को एक रिपोर्ट भेजी थी. रिपोर्ट में एसपी ने पूरे मामले की मुख्यालय स्तर से जांच कराने की अनुशंसा की थी. रिपोर्ट के साथ एसपी ने अपने मंतव्य में कहा था कि पुलिस के प्रयास से भाकपा माअोवादी समाप्ति पर है. लेकिन बीजीआर कंपनी के रघुराम रेड्डी जैसे बड़ी कंपनी के मालिक द्वारा चतरा जिला में समाप्त हो रहे माअोवादी संगठन और दूसरी सक्रिय उग्रवादी संगठन टीपीसी को अपार धन मुहैया करा कर पोषित और मजबूत किया जा रहा है.

एसपी ने अपनी रिपोर्ट में लिखा था कि रघुराम रेड्डी की कार्यशैली स्थानीय पीड़ितों के खिलाफ है, जिससे पुलिस व सरकार की छवि प्रभावित हो रही है. एसपी ने यह भी अनुशंसा की थी कि रेड्डी और उसकी कंपनी को चतरा के साथ-साथ राज्य के किसी भी कंपनी में भी कार्य न मिल सके. इस दिशा में पुलिस मुख्यालय व झारखंड सरकार के स्तर से प्रभावकारी कार्रवाई किये जाने की आवश्यकता है. ताकि स्थानीय स्तर पर औद्योगिक इकाई के प्रभाव में निरंतर विकास के साथ-साथ भविष्य में उग्रवादी संगठन एमसीसी आई व टीपीसी को आर्थिक रुप में कमजोर कर उसे समाप्त किया जा सके.

एसपी ने अपनी रिपोर्ट में लिखा था कि प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन टीपीसी सुप्रीमो ब्रजेश गंझू के साथ रघुराम रेड्डी का सीधा संपर्क है. दोनों के बीच बात होती है और गोपनीय तरीके से टीपीसी सुप्रीमो के निर्देश में कार्य करते हुए टीपीसी को आर्थिक लाभ के साथ-साथ अन्य व्यवस्था करते हैं. ताकि उग्रवादी संगठनों का सहयोग व प्रभाव से ये (रघुराम रेड्डी) अपनी मनमानी करते रहे.

चतरा एसपी की रिपोर्ट के मुताबिक रघुराम रेड्डी की बीजीआर कंपनी ने टंडवा में काम बंद कर दिया. टंडवा में काम करने के बाद रघुराम रेड्डी ने एनटीपीसी के लिए ट्रांसपोर्टिंग का काम शुरु कर दिया है. उसकी कंपनी के द्वारा उरीमारी और बड़कागांव के चट्टी-बरियातू रेलवे साइडिंग से कोयला का ट्रांसपोर्टिंग का काम कराया जा रहा है.

यह भी पढ़ें: राहुल बोले: PM मोदी की विचारधारा है दलितों के खिलाफ

स्रोत: newswing.com

सामाजिक नेटवर्क में शेयर:

टिप्पणियां - 0