NewsHub के साथ गर्मागर्म विषयों पर ताज़ातरीन ख़बरों के अपडेट प्राप्त करें। अभी इन्स्टाल करें।

राहुल का पीएम मोदी से पांचवा सवाल, 'गुजरात में क्यों सुरक्षित नहीं बेटियां?'

३ दिसंबर, २०१७ १:०१ अपराह्न
2 0
राहुल का पीएम मोदी से पांचवा सवाल, 'गुजरात में क्यों सुरक्षित नहीं बेटियां?'

गांधीनगर. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुजरात में व्यापक चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं, हालांकि अब उनका गुजरात दौरा करीब 5 दिसंबर को होगा लेकिन उन्होंने इसके पहले गुजरात में रैलियां और सभाऐं कीं. दूसरी ओर वे ट्विटर पर सक्रिय हैं रविवार को उन्होंने ट्विटर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार को लेकर सवाल किए. इस दौरान उन्होंने कहा कि गुजरात में महिला सुरक्षा, शिक्षा व स्वास्थ्य का मामला सामने है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कई तरह के सवाल किए.

जिसमें उन्होंने गुजरात के विकास को लेकर भी चर्चा की थी. लेकिन रविवार को जो सवाल किया वह महिला सुरक्षा और शिक्षा की स्थिति से जुड़ा था. राहुल गांधी शिक्षा के मसले पर अपनी एक सभा में भी मौजूद लोगों से चर्चा कर चुके हैं. वे यह कहते रहे हैं कि गुजरात में शिक्षा का कारोबार कर दिया गया है. यदि किसी युवा को अच्छी शिक्षा चाहिए हो तो वह महंगी मिलेगी.

वह शिक्षा प्राप्त नहीं कर सकता है जब तक कि उसके पास पर्याप्त धन न हो. उन्होंने ट्वीट के माध्यम से राज्य सरकार पर हमला किया और लिखा कि गुजरात में न तो महिलाओं को पर्याप्त शिक्षा प्राप्त करने की सुविधा मिली है और न ही महिलाओं को पर्याप्त पोषण की सुविधा मिली है और न ही सुरक्षा मिली है. जबकि जो आंगनवाड़ी कार्यकर्ताऐं कार्य कर रही हैं उन्हें केवल शोषण ही मिली है.

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और आशा कार्यकर्ता सभी का शोषण हुआ और सभी परेशान हुईं. उन्होंने हैशटेग के साथ लिखा गुजरात मांगे, जिसके बाद उन्होंने जवाब में महिलाओं के प्रति होने वाले अपराधों का उल्लेख किया है. राहुल ने इसके अलावा एक अन्य ट्वीट पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के उस बयान का जिक्र किया है जिसमें उन्होंने मोदी सरकार पर निशाना साधा था. मनमोहन सिंह ने शनिवार को सूरत में मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों पर सवाल उठाते हुए कहा था कि, नोटबंदी और जीएसटी के बाद उसके असर का मूल्यांकन करने में सरकार जल्दबाजी कर रही है.

यह भी पढ़ें: आदिवासी कल्याण को लेकर राहुल ने मोदी पर साधा निशाना

स्रोत: palpalindia.com

सामाजिक नेटवर्क में शेयर:

टिप्पणियां - 0