अयोध्या में राम मंदिर निर्माण 2019 से पहले हो जाना चाहिए: शिवसेना

१२ अक्‍तूबर, २०१८ ५:२० अपराह्न

1 0

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण 2019 से पहले हो जाना चाहिए: शिवसेना

नई दिल्ली. शिवसेना के राज्यसभा सासंद संजय राउत ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने कहा कि राम मंदिर को लेकर जिसे बोलना चाहिए वो मौन धारण किए हुए हैं. उन्होंने कहा कि मैं अयोध्या से लौटा हूं वहां की स्थिति को देखकर मेरा मन व्यथित हो उठा है. राउत ने कहा कि मंदिर निर्माण का कार्य 2019 से पहले खत्म हो जाना चाहिए क्योंकि केंद्र में पूर्ण बहुमत की सरकार है. मंदिर निर्माण विवाद को शुरू हुए 25 साल से ज्यादा हो गए लेकिन अभी तक रामलला वनवास काट रहे हैं.

संजय राउत ने अयोध्या में कहा है कि पूर्व शिवसेना प्रमुख बाला साहब ठाकरे के रहते विवादित ढांचा गिर गया था. ऐसा करके उन्होंने भगवान राम को मुक्त करवाया था लेकिन अभी तक मंदिर निर्माण नहीं हो सका है.

उन्होंने राम मंदिर मामले पर बीजेपी को खड़ा कठघरे में खड़ा करते हुए कहा, बीजेपी 2019 से पहले अयोध्या में राम मंदिर निर्माण शुरू करे. बीजेपी चाहे तो 24 घंटे के अंदर अध्यादेश ला सकती है. अगर ट्रिपल तलाक पर एससी-एसटी ऐक्ट पर अध्यादेश आ सकता है तो राम मंदिर पर क्यों नहीं.

उन्होंने कहा कि 2019 के बाद भारतीय जनता पार्टी ने राम को वनवास में रखा तो जनता उसे भी वनवास के लिए भेज देगी. बता दें कि उद्धव के दौरे को लेकर राउत पहले से तैयारी के लिए पहुंचे हैं. नवंबर में ठाकरे अयोध्या पहुंचेंगे.

शिवसेवा सांसद ने कहा कि अगर अयोध्या में बीजेपी राम मंदिर नहीं बनाती है तो उसे राम के नाम पर वोट मांगने का अधिकार नहीं है. उन्होंने गंगा की सफाई के लिए अनशन पर बैठे पर्यावरणविद जीडी अग्रवाल के निधन को लेकर बीआई जांच की मांग की.

यह भी पढ़ें: राम मंदिर बयान पर जावड़ेकर का थरूर-राहुल पर हमला, बोले- चुनाव के दौरान बनते हैं हिंदू

स्रोत: palpalindia.com

श्रेणी पृष्ठ पर

Loading...