एथलेटिक्सः बोल्ट को चीन में लगेगा झटका?

२२ अगस्त, २०१५ ४:५५ पूर्वाह्न

33 0

एथलेटिक्सः बोल्ट को चीन में लगेगा झटका?

चीन के बीजिंग नेशनल स्टेडियम में शनिवार से 15वीं विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप शुरू होने जा रही है.

17 भारतीय एथलीटों समेत दुनिया भर के बेहतरीन एथलीट इस प्रतियोगिता में उतरेंगे.

ख़ास तौर से जमैका के सुपर स्टार धावक उसेन बोल्ट पर सबकी नज़रें रहेंगी.

डिस्कस थ्रो में भारत के विकास गौडा और शॉट पुट थ्रो में इंद्रजीत सिंह भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे.

विकास गौडा ने ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक अपने नाम किया था.

इसके अलावा वह पिछले साल चीन के ग्वांगझो में आयोजित एशियन खेलों में रजत पदक जीत चुके हैं.

एथलेटिक्स की पैदल चाल स्पर्धा में भारत पुरुष वर्ग में पांच और महिला वर्ग में दो एथलीट उतार रहा है.

पुरुषों की 20 किलोमीटर पैदल चाल स्पर्धा में भारत के बिजेंद्र सिंह, गुरमीत सिंह, चंदन सिंह और महिला वर्ग में खुशबीर कौर और सपना भाग लेंगी.

पुरुषों की 50 किलोमीटर पैदल चाल में भारत के मनीष सिंह रावत और संदीप कुमार हिस्सा लेंगे.

पिछले कुछ समय से भारत की उम्मीदों के रूप में उभरी टिंटू लुका महिलाओं की 800 मीटर दौड में हिस्सा लेंगी.

कभी स्वर्णपरी कहलाने वाली भारत की जानी-मानी एथलीट पीटी ऊषा की शिष्या टिंटू लुका ने इसी साल वुहान में हुई एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता था.

अंतराष्ट्रीय स्तर पर यह व्यक्तिगत रूप से उनकी पहली सबसे बड़ी कामयाबी रही. वह ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों में उस 4 गुना 400 मीटर रिले टीम का भी हिस्सा थी जिसने स्वर्ण पदक जीता था.

महिलाओं की 5,000 मीटर दौड़ और मैराथन में ओपी जैशा हिस्सा लेंगी. मैराथन में ही इनके अलावा सुधा सिंह और ललिता बाबर भी अपना-अपना दावा पेश करेंगी.

इनके अलावा महिलाओं की 4 गुना 400 मीटर दौड में भारत की टिंटू लुका, जैशना मैथ्यू, अनु राघवन, एम, आर, पुवाम्मा और देबश्री मजूमदार भाग लेंगी.

विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भारत के लिए पहला पदक लम्बी कूद में अंजू बॉबी जॉर्ज ने साल 2003 में पेरिस में कांस्य पदक के रूप में जीता था.

उसके बाद साल 2005 में मोंटे कार्लो में विश्व एथलेटिक्स फाइनल्स में उन्होंने रजत पदक जीता था लेकिन अंतराष्ट्रीय एथलेटिक्स फेडेरेशन ने जब रूस की तात्याना कोतोवा को डिस्क्वालीफाइ कर दिया तो उन्हें स्वर्ण पदक दिया गया.

विश्व चैंपियनशिप के पहले ही दिन शनिवार को जमैका के सुपर स्टार धावक उसेन बोल्ट 100 मीटर हीट में उतरेंगे.

बोल्ट ने यहीं साल 2008 में बीजिंग ओलंपिक में तीन स्वर्ण पदक जीते थे. विश्व चैंपियनशिप में बोल्ट के नाम 8 स्वर्ण पदक है.

वैसे पिछले दिनों बोल्ट ने डायमंड लीग चैंपियनशिप में 100 मीटर दौड 9.87 सेकंड में जीत कर दिखा दिया था कि उन्हें पछाड़ना आसान नहीं है.

बोल्ट के अलावा शनिवार को ही ब्रिटेन के मो फराह 10,000 मीटर दौड़ में अपने छठे ख़िताब की तलाश में उतरेंगे.

पुरुषों की मैराथन में युगांडा के स्टीफन किपरोटिच और महिलाओं की हेप्टाथलन में ब्रिटेन की जेसिका एनिस हाल और कैटरीना जानसन थाम्पसन और कनाडा की ब्रियानो थेइसेन के बीच कड़ा संघर्ष होने की उम्मीद है.

लेकिन इस चैंपियनशिप का आयोजन ऐसे समय हो रहा है जब विश्व एथलेटिक्स दुनिया ड्रग सेवन के आरोपों का भी सामना कर रही है.

स्रोत: bbc.com

श्रेणी पृष्ठ पर

Loading...