कांग्रेस- जेडीएस में फिर ठनी, देवगौड़ा ने दी एक साथ लोकसभा चुनाव न लड़ने की चेतावनी

१२ जुलाई, २०१८ ४:०१ अपराह्न

10 0

कांग्रेस- जेडीएस में फिर ठनी, देवगौड़ा ने दी एक साथ लोकसभा चुनाव न लड़ने की चेतावनी

बेंगलुरु. कर्नाटक में जनता दल सेक्युलर और कांग्रेस के गठबंधन वाली सरकार में चल रहा तनाव बढ़ता जा रहा है. नई दिल्ली में संवाददाताओं से बातचीत के दौरान जेडीएस नेता एचडी देवगौड़ा ने कांग्रेस को चेतावनी देते हुए कहा है कि जरूरी नहीं क्षेत्रीय दल हर जगह उसके साथ आगामी लोकसभा चुनाव लड़ें.

उन्‍होंने कहा कि मुख्‍यमंत्री पद की शपथ के दौरान उपस्थित 6 गैर एनडीए दल एचडी देवगौड़ा को दर्शाता है. हालांकि उन्होंने इस बात की तरफ भी ईशारा किया कि वर्ष 2019 में के लोकसभा चुनाव में क्या पता हरेक राज्‍य में एकसाथ मिलकर चुनाव न लड़ें. गौर हो कि मई में हुए शपथ ग्रहण समारोह में कांग्रेस, टीएमसी, बीएसपी, आम आदमी पार्टी, सीपीएम और टीडीपी के नेताओं ने एकजुटता दिखाई थी.

गौड़ा ने कहा कि 80 लोकसभा सीटों वाले उत्तर प्रदेश में जहां 40-40 सीटों के बंटवारे पर बात कर रही हैं. वहीं महाराष्‍ट्र में एनसीपी, आंध्र प्रदेश में टीडीपी और तेलंगाना में टीआरएस को कांग्रेस संग चुनाव लडऩा है या नहीं इसका फैसला बाकी है. उधर पश्चिम बंगाल में टीएमसी और कांग्रेस एकसाथ चुनाव लडऩे के लिए सहमत हो गए हैं. कर्नाटक में भी मतभेदों के बावजूद कांग्रेस के साथ मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ने की बात कही है.

जेडीएस नेता देवगौड़ा ने कहा कि कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी और कुमारस्‍वामी के बीच वार्ता टल गई है. इतना ही नहीं देवेगौड़ा ने अपने सहयोगी बीएसपी के लिए भी एक लोकसभा सीट की मांग की है. इसके बदले में बीएसपी से यूपी में एक सीट उनके महासचिव दानिश अली को देने के लिए कहा है.

मध्‍य प्रदेश, राजस्‍थान और छत्‍तीसगढ़ मे दिसंबर में लोकसभा चुनाव कराने के संकेतों के बाद देवगौड़ा ने तीसरे मोर्चे का जल्द गठन होने की बात कही है. बता दें, कर्नाटक के पूर्व सीएम सिद्धारमैया न केवल कुमारस्वामी की गठबंधन की सरकार के लिए समस्या खड़ी कर रहे हैं बल्कि कांग्रेस के लिए भी चिंता की वजह बन गए हैं.

सरकार के विरोध में वीडियो क्लिप वायरल होने के बाद सिद्धारमैया ने पार्टी के 8 विधायकों के साथ धर्मस्थल में बैठक की जिसमें कर्नाटक सरकार के 2 मंत्री भी मौजूद थे. यह बैठक कांग्रेस के लिए शर्मिंदगी का विषय भी बनी. कर्नाटक से आने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खडगे ने भी स्वीकार किया है कि उन्होंने वायरल हुआ वीडियो देखा है.

यह भी पढ़ें: निर्वाचन आयोग ने सुप्रीम कोर्ट में कहा, चुनाव कराने का तरीका कांग्रेस हमें नहीं सिखा सकती

स्रोत: palpalindia.com

श्रेणी पृष्ठ पर

Loading...