कांग्रेस ने सुषमा-वसुंधरा को हटाने की मांग तेज की, वसुंधरा ने अमित शाह से फोन पर की बात

१७ जून, २०१५ ५:०२ अपराह्न

2 0

कांग्रेस ने सुषमा-वसुंधरा को हटाने की मांग तेज की, वसुंधरा ने अमित शाह से फोन पर की बात

जांच का सामना करने के लिए सरकार ललित मोदी को देश लाने की कोशिश करे: चिदंबरम

नयी दिल्ली: दिग्गज भाजपा नेताओं सुषमा स्वराज और वसुंधरा राजे द्वारा पूर्व आईपीएल कमिश्नर ललित मोदी की मदद के मुद्दे पर उठा विवाद तब और गहरा गया जब इन लोगों के साथ करीबी रिश्तों का पूर्व आईपीएल कमिश्नर का दावा सामने आया. उधर कांग्रेस ने दोनों को उनके पदों से हटाने की मांग तेज कर दी है.

सरकार ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का बचाव किया लेकिन राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा के मामले में सरकार ज्यादा सतर्क दिखी जब संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि वे ललित मोदी की आव्रजन अर्जी पर वसुंधरा द्वारा उनकी कथित मदद के संबंध में ब्यौरे का इंतजार करेंगे.

नरेंद्र मोदी सरकार के लिए दिक्कतें और बढ गयीं जब कल रात एक टीवी साक्षात्कार में पूर्व आईपीएल कमिश्नर का यह विस्फोटक दावा सामने आया कि वसुंधरा ने ब्रिटेन में उनकी आव्रजन अर्जी लिखने में सहयोग किया था और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के साथ उनके पारिवारिक रिश्ते हैं जिनके पति और बेटी ने उन्हें मुफ्त में कानूनी सेवाएं दीं.

ललित मोदी ने यह भी कहा कि दो साल पहले जब उनकी पत्नी कैंसर के इलाज के लिए पुर्तगाल गयीं थीं तो वसुंधरा उनके साथ थीं. वसुंधरा राजे दिसंबर 2013 में दूसरी बार राजस्थान की मुख्यमंत्री बनी थीं. वसुंधरा राजे की समस्या इन खबरों से और बढ गयी कि ललित मोदी ने 2008 में उनके बेटे दुष्यंत की एक कंपनी में 11.63 करोड रुपये का निवेश किया था.

मुख्यमंत्री की ओर से आज कोई टिप्पणी नहीं आई, वहीं सुषमा ने ट्वीट करके कहा, मेरी बेटी बैरिस्टर है और ऑक्सफोर्ड से स्नातक है. आप जो कह रहे हैं, वह बिल्कुल गलत है. कैबिनेट की बैठक के बाद प्रसाद ने आज एक संवाददाता सम्मेलन में सुषमा का बचाव करते हुए कहा, जहां तक अनियमितताओं के आरोपों की बात है तो मैं इस दलील को नहीं मानता. यह केवल मानवीय कारण से दयापूर्ण हस्तक्षेप का मामला है. और कुछ नहीं.

ललित मोदीगेट विवाद में नाम सामने आने से घिरी राजस्थान की मुख्यमंत्री वसंधरा राजे ने आज भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को फोन किया और अपना पक्ष रखा. आईपीएल के पूर्व अध्यक्ष ललित मोदी ने दावा किया है कि वसुंधरा ने ब्रिटेन में उनकी आव्रजन अर्जी का समर्थन किया था.

सूत्रों ने बताया कि वसुंधरा ने शाह के साथ ललित मोदी की ओर से किये गए दावों पर चर्चा की और पार्टी प्रमुख को बताया कि ललित मोदी से उनके पारिवारिक संबंध हैं लेकिन उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है. पार्टी सूत्रों ने बताया कि वसुंधरा ने दोनों परिवारों के बीच संबंधों और ललित मोदी की पत्नी के साथ उनकी मित्रता को समझाने का प्रयास किया लेकिन मीडिया में चल रहे दस्तावेज असत्यापित और अहस्ताक्षरित हैं.

स्रोत: prabhatkhabar.com

श्रेणी पृष्ठ पर

Loading...