जदयू नेताओं को विप उम्मीदवारों को जिताने का मिला टास्क

१७ जून, २०१५ १२:३१ पूर्वाह्न

6 0

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विधानसभा चुनाव में भाजपा के सीएम उम्मीदवार को लेकर मंगलवार के दिन भर के घटनाक्रम पर खूब चुटकी ली. सीएम आवास पर पुराने शाहाबाद जिले के चारों जिलों से आये जदयू पदाधिकारियों को मुख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं को भाजपा को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार रहने को कहा.

पार्टी प्रवक्ता डॉ अजय आलोक ने बैठक की जानकारी देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा, भाजपा की स्थिति विक्षिप्त जैसी हो गयी है. सीएम ने रोहतास, बक्सर, कैमूर और आरा जिले के जदयू पदाधिकारियों को भाजपा के आरोपों का मुंहतोड़ जवाब देने का आह्वान किया. उन्होंने सभी नेताओं को विधान परिषद चुनाव में गंठबंधन के सभी उम्मीदवारों को विजयी बनाने की अपील की. बैठक में उन्होने पार्टी की ओर से आयोजित युवा, किसान और भूमि अधिग्रहण विधेयक के खिलाफ आंदोलन की विस्तार से चर्चा की.

पार्टी की ओर से 18 जून को किसान सम्मेलन, 20 को युवा सम्मेलन और 22 जून को प्रखंड कार्यालय में भूमि अधिग्रहण विधेयक के खिलाफ धरना देने को सफल बनाने का निर्देश दिया. साथ ही 24 से तीस जून तक गांवों में परचा पर चरचा कार्यक्रम के दौरान राज्य सरकार की उपलब्धियों की विस्तार से चरचा करने का निर्देश दिया. साथ ही एक साल में केंद्र सरकार की घोषणाओं की जमीनी हकीकत और भाजपा के प्रचार प्रसार का जोरदार मुकाबला करने का टास्क दिया. बैठक को प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने भी संबोधित किया. श्री सिंह ने पार्टी नेताओं को निर्धारित कार्यक्रमों में भाग लेने तथा इसे सफल बनाने का आह्वान किया. पार्टी प्रवक्ता डॉ अजय आलोक ने बताया कि बैठक में चारों जिलों के जिलाध्यक्ष, प्रखंड अध्यक्ष, विधायक, विधान पार्षद, सांसद और राज्य सलाहकार समिति के सदस्य और कार्यकारिणी के सदस्य भी मौजूद थे.

यह भी पढ़ें: सीएम के बजाय विपक्ष के नेता की तरह काम कर रहे केजरीवाल: माकन

स्रोत: prabhatkhabar.com

श्रेणी पृष्ठ पर

Loading...