नहीं परोसा गया तला हुआ चूहा, कंपनी को बदनाम करने की साजिश

१८ जून, २०१५ १२:५६ अपराह्न

6 0

नयी दिल्ली : अमेरिका में एक ग्राहक द्वारा केएफसी में चिकेन की जगह चूहा परोसने की शिकायत का केएफसी ने खंडन किया है. केएफसी ने ग्राहक की ओर से जारी की गयी तस्‍वीर को एक एंगल से ली गयी तस्‍वीर और सच्‍चाई को छुपाने की बात कही है. केएफसी ने कहा कि उनके द्वारा परोसा गया व्‍यंजन 100 फीसदी चिकेन ही था. तलने के दौरान चिकेन के उपर लपेटे गये क्रिस्‍पी पदार्थ का शेप चूहा जैसा हो गया था. जिससे ग्राहक में भ्रम की स्थिति बन गयी.

बाद में मैनेजर ने मामले को स्‍पष्‍ट किया और चिकेन के टुकड़े को तोड़ कर यह साबित किया कि वह व्‍यंजन 100 फीसदी चिकेन ही था. अमेरिका के रहने डेवाराईस डिक्सन ने केएफसी में फिंगर लैकिन का आर्डर दिया था. जब व्‍यंजन उनके टेबल पर परोसा गया तो उसका आकार देखकर उन्‍हें अंदेशा हुआ कि वह चूहा है. इस पर वे मैनेजर से बहस करते हुए रेस्‍टूरेंट से बाहर निकल गये और सोशल साइट्स पर व्‍यजन की तस्‍वीरे पोस्‍ट कर दी.

बाद में मीडिया में खबर आने के बाद केएफसी ने अपने व्‍यंजन को पूरी तरह शुद्ध और सुरक्षित बताया साथ ही डिक्‍सन को परोसे गये व्‍यंजन को भी तोड़कर उसकी तस्‍वीर भेजी. डिक्शन के सोशल नेटवर्किंग साइट पर तस्‍वीर साझा किये जाने के बाद लोगों की काफी प्रतिक्रियाएं आयीं थी. केएफसी ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि कंपनी की ओर से डिक्‍सन को जांच में सहयोग करने की बात कही गयी, लेकिन वे जांच में सहयेाग नहीं कर रहे हैं. कंपनी को बदनाम करने की साजिश की जा रही है.

यह भी पढ़ें: रूस ने 10वीं बार किया वीटो का इस्तेमाल, रोका सीरिया रासायनिक हमलों की जांच

स्रोत: prabhatkhabar.com

श्रेणी पृष्ठ पर

Loading...