नालियों की सफाई को लेकर गंभीर नहीं है निगम, नगर आयुक्त के आदेश की हो रही अवहेलना

१३ जून, २०१८ ४:३५ पूर्वाह्न

8 0

नालियों की सफाई को लेकर गंभीर नहीं है निगम, नगर आयुक्त के आदेश की हो रही अवहेलना

Ranchi : अपने कामों को लेकर लगातार आलोचनाओं से घिरता रहा रांची नगर निगम अब शहर के नालियों की सफाई को लेकर भी गंभीर नहीं है. तमाम निर्देशों के बाद भी नालियों की साफ-सफाई नहीं कराये जाने से शहर के मेन इलाकों में जल-जमाव की स्थिति बनती जा रही है. राज्य में मानसून के प्रवेश को बस कुछ ही दिन बचे हैं. लेकिन फिर भी इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है. नगर आयुक्त शांतनु अग्रहरि ने पहले से ही निगम के अधिकारियों को शहर के सभी प्रमुख नालों की सफाई को लेकर आदेश दे रखा है, लेकिन आज भी कई नालियों की सफाई पूरी तरह से नहीं हो पायी है. बारिश होने के बाद इन इलाकों में बीमारी फैलने की स्थिति की संभावना से इन्कार नहीं किया जा सकता.

मालूम हो कि नगर आयुक्त शांतनु अग्रहरि ने निगम के स्वास्थ्य पदाधिकारी किरण कुमारी को निर्देश देते हुए कहा था कि मानसून के दौरान शहर के प्रमुख नालों में जल-जमाव की स्थिति न हो, इसके लिए युद्ध स्तर पर नालियों की सफाई व उनके निर्माण का कार्य किया जाए. नगर आयुक्त ने यह भी कहा था कि अगर जल्द ही सभी बड़े नालों की सफाई नहीं होती है , तो मानसून के दौरान लोगों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा.

हरमू इलाके स्थित आनंदपुरी चौक के पास नालों की स्थिति भी काफी बदतर हो गयी है. नालियां लोगों के लिए अभिशाप साबित हो सकती है. यही स्थिति रांची लेक के पास भूइंया टोली की भी है, जहां नाले में कचरा जमा हो जाने के कारण बरसात का पानी सड़क पर आ जाता है. नालों की साफ-सफाई नहीं होने से इलाके में रहने वाले लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है. साथ ही नालियों से निकलती दुर्गंध ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है. साथ ही इसकी वजह से संक्रामक रोग की पनपने की स्थिति बनती जा रही है.

मामले को लेकर निगम की स्वास्थ्य पदाधिकारी किरण कुमारी का कहना है कि निगम द्वारा पहले ही करीब 95 प्रतिशत इलाकों में नाले की सफाई करा दी गयी है. अगर कोई इलाका निगम के नजर से छुटा है, तो उसकी भी जल्द सफाई करा दी जाएगी. हालांकि हरमू इलाकों में नालियों की स्थिति की बात पूछने पर उनका कहना था कि मीडिया के द्वारा ही यह अफवाह फैलाया जाता रहा है कि विभाग को सफाई करने का आदेश मिला हुआ है. जबकि हकीकत यह है कि करीब एक माह पहले ही निगम ने नालियों की सफाई का कार्य शुरु कर दिया है.

स्रोत: newswing.com

श्रेणी पृष्ठ पर

Loading...