मॉर्निंग वॉक पर निकली थीं 2 गर्भवती महिलाएं, खुले में शौच के नाम पर कर दिया केस

८ अक्‍तूबर, २०१७ १:११ अपराह्न

3 0

मॉर्निंग वॉक पर निकली थीं 2 गर्भवती महिलाएं, खुले में शौच के नाम पर कर दिया केस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर शुरू स्वच्छता अभियान कई बार उल्टे सरकार के लिए ही गले की हड्डी बनता दिखा. ऐसा ही कुछ वाकया मालेगांव तहसील के मेडशी गांव में दर्ज किया गया.

दरअसल खुले में शौच करने वालों को पकड़ने निकली स्वच्छता अभियान टीम ने दो गर्भवती महिलाओं को पकड़ लिया और गाड़ी में बिठाकर मेडशी पुलिस चौकी ले गए. जबकि महिलाओं का कहना है कि वे मॉर्निंग वॉक के लिए निकली थीं.

स्वच्छता अभियान के अंतर्गत मालेगांव जिला परिषद प्रशासन की ओर से खुले में शौच करने वालों के खिलाफ कार्रवाई के लिए एक टीम तैयार की गई है, जो सुबह गांव-गांव पहुंचकर खुले में शौच पर जाने वालों को पकड़ती है और उनके खिलाफ कार्रवाई करती है. इसी प्रक्रिया के तहत दोनों गर्भवती महिलाओं को भी पकड़ा गया और घंटों उन्हें मेडशी पुलिस चौकी में बिठाए रखा गया.

वहीं गर्भवती महिलाओं का कहना है कि वे मॉर्निंग वॉक पर निकली थीं, तभी स्वच्छता अभियान की टीम उन्हें जबरदस्ती अपनी गाड़ी में बिठाकर पुलिस चौकी ले आई और दो घंटे से ज्यादा समय तक बिठाए रखा. इतनी देर पुलिस चौकी में बैठने के चलते एक गर्भवती महिला की तबीयत भी बिगड़ गई और उसे अकोला अस्पताल भेजना पड़ा.

जहां स्वच्छता अभियान टीम ने महिलाओं के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज कराया है, वहीं गर्भवती महिलाओं ने भी स्वच्छता अभियान की टीम पर बिना वजह परेशान करने का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई. पुलिस ने महिलाओं की शिकायत पर स्वच्छता अभियान टीम के खिलाफ भी मामला दर्ज कर लिया है.

स्रोत: aajtak.intoday.in

श्रेणी पृष्ठ पर

Loading...