रेलवे का VIP कल्चर समाप्त करने पर जोर

८ अक्‍तूबर, २०१७ २:२९ अपराह्न

3 0

मंत्रालय ने 28 सितंबर को एक आदेश में कहा कि रेलवे बोर्ड के चेयरमैन और बोर्ड के अन्य सदस्यों की यात्राओं के दौरान हवाईअड्डों और रेलवे स्टेशनों पर अपनाये जाने वाले प्रोटोकॉल के संबंध में रेलवे को जारी निर्देश तथा दिशानिर्देशों को तत्काल प्रभाव से वापस लिया जाता है.

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्वनी लोहानी ने कहा कि किसी अधिकारी को अब कभी भी गुलदस्ता और उपहार नहीं दिये जाएंगे.

रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों को केवल दफ्तर में ही नहीं बल्कि घर पर भी इस तरह की पाबंदी का पालन करना होगा. सभी आला अधिकारियों को अपने घरों में घरेलू कर्मचारियों के रूप में लगे रेलवे के समस्त स्टाफ को मुक्त करना होगा.

मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘किसी को काम पर वापस लौटने के निर्देश से छूट नहीं दी जाएगी. केवल बहुत विशेष परिस्थितियों में यह छूट दी जाएगी. हम उम्मीद कर रहे हैं कि सभी कर्मी जल्द काम पर लौटेंगे.’’ रेल मंत्री पीयूष गोयल ने वरिष्ठ अधिकारियों से एक्जिक्यूटिव श्रेणी में यात्रा करना छोड़कर स्लीपर और एसी थ्री-टीयर श्रेणी के डिब्बों में अन्य यात्रियों के साथ सफर करने को कहा है.

स्रोत: newswing.com

श्रेणी पृष्ठ पर

Loading...