शिअद के टकसाली नेता सेखवां ने सभी पदों से दिया इस्तीफा

४ नवंबर, २०१८ ३:३४ पूर्वाह्न

8 0

शिअद के टकसाली नेता सेखवां ने सभी पदों से दिया इस्तीफा

चंडीगढ़. पंजाब में विपक्षी शिरोमणि अकाली दल(शिअद) ने कादियां से अपने वरिष्ठ नेता और राज्य के पूर्व मंत्री सेवा सिंह सेखवां की तत्काल प्रभाव से प्राथमिक सदस्यता समाप्त कर उन्हें पार्टी से बाहर कर दिया है. आज सेखवां ने प्रैस कांफ्रेंस आयोजित कर पूर्व डिप्टी सीएम सुखबीर बादल और पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि जब तक पार्टी की प्राथमिक लीडरशिप नहीं बदली जाती तब तक वह उसका हिस्सा नहीं बनेंगे.

उन्होंने कहा कि सुखबीर सिंह बादल प्रधानगी पद के काबिल नहीं हैं. सुखबीर ने सिख पंथ व सिखों को अपनी कुर्सी पर कुर्बान कर दिया. इस दौरान रतन सिंह अजनाला ने कहा कि अगर अकाली दल को बचाना है तो पार्टी को सुखबीर सिंह बादल और बिक्रम सिंह मजीठिया को किनारे करना होगा. उन्होंने कहा कि अकाली दल किसी के बाप की पार्टी नहीं है. इस पार्टी को बनाने में सभी का योगदान है. सेखवां ने आरोप लगाया कि बादल और कैप्टन का परिवार आपस में मिला हुआ है. इन नाराज टकसाली नेताओं का कहना है कि जब पंजाब में सुखबीर बादल की सरकार थी तो उन्हें नवंबर में सिर्फ कबड्डी मैच और प्रियंका चोपड़ा का डांस याद रहता था. आज वह सिखों के कत्लेआम के मुद्दे पर धरने का ड्रामा कर रहे हैं.

पार्टी वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री दलजीत सिंह चीमा ने आज यहां जारी एक बयान में कार्रवाई की पुष्टि करते हुए सेखवां के खिलाफ यह फैसला उनकी पार्टी विरोधी गतिविधियों और अनुशासनहीनता को लेकर लिया गया है. उन्होंने कहा कि लगातार चार विधानसभा हारने के बावजूद सेखवां को पार्टी के अनेक महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां दी थीं लेकिन वह एहसानमंद होने के वजाय मौकापरस्ती के तहत पार्टी की पीठ में छुरा घोंपने का काम कर रहे थे.

स्रोत: palpalindia.com

श्रेणी पृष्ठ पर

Loading...