DMK बोली- मोदी सरकार से लड़ाई, राहुल के PM बनने पर आपत्ति नहीं

८ नवंबर, २०१८ ११:१५ पूर्वाह्न

5 0

DMK बोली- मोदी सरकार से लड़ाई, राहुल के PM बनने पर आपत्ति नहीं

नई दिल्ली. द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK) जल्द ही 2019 लोकसभा चुनाव के लिए अपनी रणनीति तय करने वाली है. इसी के तहत तमिलनाडु के पेरम्बदूर में DMK के अध्यक्ष एमके स्टालिन के नेतृत्व में एक अहम बैठक होने वाली है. इस बैठक से पहले पूर्व दूरसंचार मंत्री और स्टालिन के करीबी ए राजा ने कहा है कि पार्टी की रणनीति केंद्र में धर्मनिरपेक्ष सरकार बनाने में मदद करने की है. उन्होंने ये भी कहा है कि राज्य में ये लड़ाई मोदी बनाम DMK की होगी. ए राजा ने इस बात के भी संकेत दिए हैं कि DMK भले ही एक क्षेत्रीय पार्टी है, लेकिन राष्ट्रीय राजनीति में भी वो बढ़ चढ़कर हिस्सा लेगी. उन्होंने कहा, "ये चुनाव DMK और AIADMK या एमके स्टालिन और ईपीएस-ओपीएस के बीच नहीं है. ये चुनाव केंद्र सरकार और DMK बनाम द्रमुक है. हम एक धर्मनिरपेक्ष सरकार चाहते हैं."

एक इंटरव्यू में राजा ने कहा कि उनकी पार्टी ने केंद्र सरकार को गाइड किया है साथ ही पार्टी ने प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति को भी चुना है. राजा ने कहा, ''हम राजनीतिक रूप से राज्य तक ही सीमित हैं, लेकिन हम राष्ट्रहित को भी ध्यान में रख रहे हैं. इस बार, हम एक धर्मनिरपेक्ष सरकार चाहते हैं.'' वहीं आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू भी शुक्रवार को स्टालिन से मिलने वाले हैं. नायडू इन दिनों बीजेपी के खिलाफ विपक्ष को एकजुट करने में जुटे हैं. DMK का कहना है कि आने वाले चुनावों के लिए वो एक बड़ा धर्मनिरपेक्ष मोर्चा बनाने में भूमिका निभाएगा. ए राजा ने कहा: "नंबर गेम में बीजेपी मजबूत है. उनके पास पैसे की ताकत है. उनके देश में कई सीएम हैं. केंद्र सरकार को हराने के लिए हमें एक मजबूत गठबंधन की जरूरत है"

यह भी पढ़ें: उद्धव बोले- 15 लाख रुपए की तरह राम मंदिर भी जुमला है?

स्रोत: palpalindia.com

श्रेणी पृष्ठ पर

Loading...